मणिपुर में महिलाओं के साथ जघन्य अपराध करने वालों को मिले मृत्युदंड-राधा बिष्ट

News Desk
3 Min Read

- Advertisement -
Ad imageAd image

अल्मोड़ा-मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र घुमाने वाला वीडियो वायरल होने के बाद पूरा देश गुस्से में है। अल्मोड़ा महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष राधा बिष्ट ने भी इस घटना पर कड़ी आपत्ति दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि वायरल वीडियो में भीड़ दो महिलाओं को बिना कपड़ों के घुमाती नजर आई थी। इतना ही नहीं आरोप ये भी है कि इनमें से एक महिला के साथ दरिंदगी भी की गई। उन्होंने कहा कि बुधवार को सामने आए 26 सेकेंड के वीडियो में गिरफ्तार आरोपियों में से एक को कांगपोकपी जिले के बी. फाइनोम गांव में भीड़ को सक्रिय रूप से निर्देश देते हुए देखा जा सकता है।उन्होंने घटना को अमानवीय करार दिया और कहा कि अपराधियों को मृत्युदंड मिलना चाहिए।

 घटना की कड़ी निंदा करते हुए राधा बिष्ट ने इसे मानवता के प्रति अपराध बताया और कहा कि महिला कांग्रेस इस जघन्य अपराध पर चुप नहीं बैठेगी।उन्होंने कहा कि पीड़ित महिला का बयान बड़ा दर्दनाक है जिसमें उन्होंने कहा है कि हम पांच लोग थे।जिनमें से दो की हत्या कर दी गई।इसके बाद भीड़ ने हमारे साथ क्रूरता की। फिर हम वहां से किसी तरह से भाग निकले।उन्होंने ये भी बताया कि उन्हें इस वायरल वीडियो की जानकारी नहीं है क्योंकि यहां इंटरनेट नहीं चल रहा है। महिला ने आगे बताया कि भीड़ में काफी लोग शामिल थे,लेकिन वह उनमें से कुछ को पहचानती है।

इसमें महिला के भाई का दोस्त भी शामिल था। जिलाध्यक्ष राधा बिष्ट ने कहा कि इस घटना के वायरल वीडियो में महिलाओं को भीड़ के जरिए निर्वस्त्र परेड कराते हुए देखा गया।कुछ लोगों को दो महिलाओं को खेत की ओर खींचते और उनके साथ जबरदस्ती छेड़छाड़ करते देखा जा सकता है।18 मई को दर्ज की गई एफआईआर में पीड़ितों ने ये भी आरोप लगाया था कि पीड़ितों में सबसे छोटी 20 वर्षीय महिला के साथ गैंगरेप भी किया गया था।श्रीमती बिष्ट ने ऐसा कृत्य करने वालों के लिए मृत्यु दण्ड की मांग की है।

Share This Article
Leave a comment