मणिपुर में फिर भड़की हिंसा, इंफाल में महिलाओं ने किया रोड ब्लॉक, सेना और RAF पहुंची

News Desk
2 Min Read

- Advertisement -
Ad imageAd image

Fresh Violence In Manipur: मणिपुर वायरल वीडियो मामले में पुलिस ने शनिवार (22 जुलाई) को एक और आरोपी को गिरफ्तार किया. महिलाओं के साथ हुई बर्बरता के मामले में ये पांचवी गिरफ्तारी की है. इस बीच राजधानी इम्फाल से एक बार फिर से हिंसा की खबर सामने आई है. 

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, इंफाल के गढ़ी इलाके में महिला प्रदर्शनकारियों ने मेन रोड को दोनों तरफ से ब्लॉक कर दिया. प्रदर्शनकारियों ने रोड पर टायर जलाए और पुलिस को कार्रवाई करने से रोक दिया. सूचना मिलते ही मणिपुर की सशस्त्र पुलिस, सेना और त्वरित कार्य बल के जवान मौके पर पहुंचे.

सुरक्षा बलों का फ्लैग मार्च

सुरक्षा बलों ने तुरंत एक्शन लेते हुए स्थिति को अपने नियंत्रण में लिया. रोड पर जलाए गए टायरों इत्यादि को भी बुझा दिया गया. प्रदर्शनकारियों को नियंत्रण में रखने के लिए पुलिस और सुरक्षाबलों ने विभिन्न इलाकों में संयुक्त रूप से फ्लैग मार्च किया है.

जातीय हिंसा में 160 की मौत

देश के पूर्वोत्तर में स्थित बीते 81 दिनों से जातीय हिंसा की आग में झुलस रहा है. राज्य में 3 मई को एक रैली के बाद इंफाल घाटी के मैतेई और पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले कुकी समुदाय के बीच हिंसा भड़क उठी थी. अब तक हिंसा के चलते 160 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं. वही, 50 हजार से ज्यादा लोग अपने घरों से भागकर शरणार्थी शिविरों में रहने के लिए मजबूर हैं.

19 जुलाई को मणिपुर में महिलाओं के साथ हुई बर्बरता का एक वीडियो वायरल हुआ तो देश में सनसनी फैल गई. वीडियो में पुरुषों की भीड़ दो महिलाओं को बिना कपड़ों के घुमाती नजर आई थी. वीडियो 4 मई का था, लेकिन दो महीने के बाद भी आरोपियों को पकड़ा नहीं गया था. वायरल होने के बाद पुलिस ने 20 जुलाई को चार आरोपियों को गिरफ्तार किया था.

Share This Article
Leave a comment