बैंक से सीज फैक्ट्री में चोरों का धावा।

News Desk
3 Min Read

- Advertisement -
Ad imageAd image

किच्छा के पुलभट्टा थाना क्षेत्र में आने वाली 10 एकड़ में फैली पेपर मिल जिसे एनजीटी के आदेश पर बंद कर दिया गया था और  कर्ज ना चुकाने के चलते पंजाब नेशनल बैंक ने पेपर मिल को अपने कब्जे में ले लिया था पेपर मिल मालिक की मिलीभगत से पेपर मिल से लाखों टन से ज्यादा लोहा चोरी कर बेच डाला”जिसमें लाखों कहे  करोड़ रुपए का मुनाफा तक कमा डाला। इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि संगठित अपराध मे शामिल 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें 4 बदमाश और 1 सिक्योरिटी गार्ड शामिल है।

मामले का खुलासा तब हुआ जब बीती रात बरा चौकी इंचार्ज पंकज कुमार को मुख़बिर से सूचना मिली कि बंद पड़ी पेपर मिल से कुछ लोग लोहा चोरी रहे हैं जिस सूचना पर एसआई पंकज कुमार पहले खुद मौके पर पहुंचे  जब उन्होंने मौके पर कुछ लोगों को लोहा निकालते देखा तो उन्होंने तुरंत थाना पुलभट्टा पुलिस से संपर्क किया” जिसके बाद पुलिस फोर्स जब मौके पर पहुंची तो अंदर लोहा चोरी कर रहे लोगों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी, पुलिस टीम द्वारा भी काउंटर फायरिंग की गई और बड़ी मुश्किल से बंद पड़ी फैक्ट्री मे चोरी करने वाले सभी बदमाशों को पकड़ लिया। जिसमें बंद फैक्ट्री का सिक्योरिटी गार्ड भी शामिल था।

पुलिस ने जब सभी को गिरफ्तार कर थाने लाकर पूछताछ की तो बेहद ही चौंकाने वाला खुलासा हुआ पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह लोग पूर्व में कई ट्रक लोहा बंद बड़ी पेपर मिल से निकालकर भेज चुके हैं यह सब काम जेल में बंद सजायाफ्ता कैदी चिराग अग्रवाल और उसके पिता अजय अग्रवाल की सहमति पर चल रहा था।

इसके साथ ही इस मुकदमे मे जेल में बंद चिराग अग्रवाल और उसके पिता अजय अग्रवाल को भी नामजद आरोपी बनाया गया है।                                                                         

मंजू नाथ टी सी  – वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उधम सिंह नगर

Share This Article
Leave a comment