December 1, 2022
UK 360 News
शिक्षा

एडमिशन लेने से पहले सही से कॉलेज की पहचान करें अपना भविष्य बचाए

 

हाल ही में 12वी पास हुए विद्यार्थी किसी भी प्राइवेट कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने से पहले उस कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी की सही तरीके के जाँच करें । क्या प्राइवेट कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी मान्यता प्राप्त है या नही ? हाल ही में उत्तराखंड के अंदर बहुत सारे प्राइवेट कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी फर्जीवाड़े में पकड़ी गयी है जिहोने बच्चों के भविष्य को बर्बाद किया है ।

प्राइवेट कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी सही है या नही कैसे पता करें?

यदि आप प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन ले रहे है तो सबसे पहले यह देखे की कॉलेज किस यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त है । यदि प्राइवेट कॉलेज किसी भी यूनिवर्सिटी से सम्बन्ध होने की दावे करता है तो सबसे पहले यूनिवर्सिटी के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर चेक करें कि प्राइवेट कॉलेज मान्यता प्राप्त है या नही ? हर यूनिवर्सिटी के ऑफिसियल वेबसाइट पर उससे सम्बन्ध कॉलेज की सूची दी जाती है ।
उसके बाद यह देखे की वह यूनिवर्सिटी UGC से मान्यता प्राप्त है या नही ? उसके लिए UGC के ऑफिसियल वेबसाइट https://www.ugc.ac.in/ पर जाएँ । यदि UGC की वेबसाइट पर यूनिवर्सिटी का नाम है परन्तु इंस्पेक्शन रिपोर्ट नही डाली गयी है इसका मतलब यूनिवर्सिटी की मान्यता अभी तक पूरी तरीके से नही मिली है ।
प्रोफेसर यशपाल बनाम छत्तीसगढ़ राज्य के मामले में भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के अनुसार प्राइवेट विश्वविद्यालय राज्य के क्षेत्रीय अधिकार क्षेत्र से परे अध्ययन केंद्र / ऑफ कैंपस केंद्र खोलने के लिए अधिकृत नहीं है। विश्वविद्यालय यू०जी०सी० के अनुमोदन के बिना यू०जी०सी० (निजी विश्वविद्यालयों में मानकों की स्थापना और रखरखाव) विनियम, 2003 के प्रावधान के अनुसार राज्य के भीतर भी अपने केंद्र नहीं खोल सकता है। यू०जी०सी० ने प्राइवेट यूनिवर्सिटी को ऑफ कैंपस/स्टडी सेंटर खोलने की कोई मंजूरी नहीं दी है ।”

इसलिए एडमिशन लेने से पहले भली भांति जाँच कर लें ।

चरस तस्करी में लिप्त पॉलीटेक्निक कॉलेज के दो कर्मचारी गिरफ्तार

उत्तराखंड में फर्जीवाड़े में पकड़े गये कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी कौन सी है ?

उत्तराखंड परा-चिकित्सा परिषद के पत्रांक संख्या र-20/उ०परा०चि०/003/2013 दिनांक 24 मई 2022 के बैठक नोटिस में शासन के अनापत्ति के संचालित गैर मान्यता प्राप्त पैरामेडिकल कोर्स कराने वाले यूनिवर्सिटी एवं कॉलेज पर कर्यवाही करने की सूचन दी गयी थी कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी के नाम निम्नवत है

  • शीतल कॉलेज और पैरामेडिकल साइंस
  • स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय
  • क्वांटम विश्वविध्यालय
  • हिमालयन गढ़वाल यूनिवर्सिटी(महाराजा अग्रसेन हिमालयन गढ़वाल यूनिवर्सिटी), पोखरा
  • जय श्री कॉलेज, अल्मोड़ा
  • डी०पी०एम०आई० देहरादून / काठगोदाम
  • सरदार भगवान सिंह विश्वविद्यालय

इन कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी के द्वारा बिना मान्यता के पैरामेडिकल कोर्स को अपने कॉलेज चलाया गया व विद्यार्थियों के भविष्य के खिलवाड़ किया गया है ।

इसलिए सभी विद्यार्थी जो अपने भविष्य को बनाने के लिए कॉलेज की तलास कर रहे है कृपया सही कॉलेज में एडमिशन लेकर अपने भविष्य को बनाएं ।

Related posts

श्री धर्मेंद्र प्रधान ने सिडनी में विभिन्न स्कूलों, उच्च शिक्षण और कौशल प्रशिक्षण संस्थानों का दौरा किया

ANAND SINGH AITHANI

UKSSC पेपर लीक मामले के बाद अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

ANAND SINGH AITHANI

श्री धर्मेंद्र प्रधान राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर दिल्ली विश्वविद्यालय से यूनिटी रन का नेतृत्व करेंगे

UK 360 News
X
error: Alert: Content selection is disabled!!
Join WhatsApp group