December 2, 2022
UK 360 News
राष्ट्रीय

वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता के बीच भारत विश्व अर्थव्यवस्था में एक चमकता हुआ स्थान है: केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने आज कहा कि वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता के बीच भारत विश्व अर्थव्यवस्था में एक चमकते हुए स्थान पर है। श्री गोयल मुंबई में 21वीं वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ अकाउंटेंट्स को संबोधित कर रहे थे।केंद्रीय वाणिज्य मंत्री ने कहा कि भारत ने प्रदर्शित किया है कि दुनिया में मौजूदा अस्थिरता, अनिश्चितता, जटिलता और अस्पष्टता के बावजूद, हमारे देश के पास नेतृत्व, क्षमताएं और कौशल है जो आर्थिक सुधार को नेविगेट करने के लिए आवश्यक है। “महामारी की चुनौतियों के बावजूद, भारतीय अर्थव्यवस्था को बनाए रखने के लिए बहुत ही उचित उपाय किए गए थे जहाँ व्यापक आर्थिक बुनियादी बातों पर एक मजबूत ध्यान केंद्रित किया गया था। हमारी सरकार ने समाज के सभी वर्गों के समावेशी कल्याण पर ध्यान केंद्रित किया है।”केंद्रीय वाणिज्य मंत्री ने कहा कि दुनिया आज विकास को गति देने और रास्ता दिखाने के लिए भारतीय अर्थव्यवस्था की ओर देख रही है। “दुनिया भारत के मजबूत आर्थिक बुनियादी सिद्धांतों, जनसांख्यिकीय लाभांश, एक बेजोड़ उपभोक्ता आधार, कौशल और भारत के युवाओं की प्रबंधन क्षमताओं को पहचानती है।”

जी-20 प्रेसीडेंसी के बारे में बोलते हुए वाणिज्य मंत्री ने कहा कि जी-20 प्रेसीडेंसी के लिए हमारी थीम ‘वसुधैव कुटुंबकम’ है। भारत का मानना है कि विश्व एक परिवार है। भारत पूरे विश्व की परवाह करता है और इसी संदर्भ में हमने अपने प्रेसीडेंसी पद की थीम एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य रखी है। जबकि दुनिया उपभोग आधारित विकास पर ध्यान केंद्रित करती है, भारत स्थिरता पर ध्यान केंद्रित करता है और प्रकृति का सम्मान करता है। भारत इंटर-जेनरेशनल इक्विटी में विश्वास करता है और यह हम में से प्रत्येक पर निर्भर है कि हम विरासत में मिली दुनिया से बेहतर दुनिया छोड़ कर जाएं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने और हर भारतीय तक समृद्धि पहुंचाने के विजन के साथ काम कर रहे हैं। “प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और भारत के लोगों ने एक ऐसे भविष्य की कल्पना की है जहां हम आजादी के 100 साल पर भारत को एक विकसित राष्ट्र देखना चाहते हैं”।

वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ अकाउंटेंट्स में चार्टर्ड अकाउंटेंट्स को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चार्टर्ड अकाउंटेंट्स इस विजन के संरक्षक हैं। “सीए को इस मिशन की प्रगति को सत्यापित करने, यह पहचानने के लिए कि क्या वादे और आपसी सहमति के अनुसार इसे लागू किया जा रहा है, की आवश्यकता होगी। हम सच्ची और निष्पक्ष तस्वीर को प्रमाणित करते हैं।”

उन्होंने कहा, “वैश्विक आर्थिक सुधार में जब दुनिया खुद को बेहतर ऊर्जा सुरक्षा और खाद्य सुरक्षा के लिए तैयार कर रही है, जैसा कि हम भविष्य देखते हैं जहां इनोवेशन और प्रौद्योगिकी विकास को गति देने जा रही है, यह सीए के रूप में हम सभी की जिम्मेदारी है कि हम सरकार और संस्थान के साथ काम करें।”

21वीं वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ अकाउंटेंट्स 2022 की मेजबानी मुंबई में द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया द्वारा हाइब्रिड मोड में की जा रही है। वर्ल्ड कांग्रेस ऑफ अकाउंटेंट्स 2022 के लिए यह थीम ‘बिल्डिंग ट्रस्ट इनेबलिंग सस्टेनेबिलिटी’ है।

Related posts

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2022 के लिये युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय ने आवेदन की तिथि 27 सितंबर, 2022 से बढ़ाकर अब एक अक्टूबर, 2022 कर दी है

UK 360 News

केरल में निर्माणाधीन वाहन अंडरपास का स्लैब गिरा, किसी के हताहत होने की खबर नहीं

UK 360 News

भारतीय वायुसेना प्रमुख और एफएएसएफ प्रमुख ने युद्धाभ्यास गरुड़ VII के दौरान उड़ान भरी

ANAND SINGH AITHANI
X
error: Alert: Content selection is disabled!!
Join WhatsApp group