December 1, 2022
UK 360 News
राष्ट्रीय

आकाशवाणी के सभी वाणिज्यिक परिचालनों के लिए ‘ब्रॉडकास्ट एयर-टाइम शेड्यूलर (बैट्स)’ लॉन्‍च किया

प्रसार भारती के वाणिज्यिक परिचालनों या कामकाज को सुव्यवस्थित और स्वचालित करने के लिए श्री मयंक अग्रवाल, सीईओ, पीबी और श्री डी.पी.एस. नेगी, सदस्य (वित्त), पीबी ने 7 नवंबर, 2022 को प्रसार भारती सचिवालय में आकाशवाणी के सभी वाणिज्यिक परिचालनों के लिए एक पूरी तरह से एकीकृत यातायात और बिलिंग एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर ‘ब्रॉडकास्ट एयर-टाइम शेड्यूलर (बैट्स)’ लॉन्‍च किया।इस अवसर पर प्रसार भारती (पीबी) के सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने कहा, ‘आकाशवाणी ने अपनी सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए एकीकृत प्रणाली को अपनाया है। बैट्स समस्‍त परिचालनों में पारदर्शिता ला सकता है और समस्‍त वाणिज्यिक परिचालनों को अत्‍यंत कुशल बना सकता है। यह विभिन्न चरणों में बुकिंग, बिलिंग एवं भुगतान प्राप्तियों, इत्‍यादि की निगरानी कर सकता है और यह सिस्टम विभिन्न रिपोर्ट प्रदान कर सकता है जो अनगिनत प्रबंधन निर्णय लेने के लिए अत्‍यंत आवश्यक हैं। यह ऐप मोबाइल पर भी उपलब्ध है। यह सॉफ्टवेयर दरअसल मेन्यू आधारित है जिसे आकाशवाणी की आवश्यकताओं के अनुसार अनुकूलित कर दिया गया है जिससे यह और भी अधिक सुविधाजनक एवं उपयोगी हो गया है।’

सदस्य (वित्त) श्री डी.पी.एस. नेगी ने कहा, ‘बैट्स के पूर्ण कार्यान्वयन से सबसे महत्वपूर्ण लाभ यह होगा कि प्राप्य का प्रबंधन और भी अधिक प्रभावकारी एवं पारदर्शी हो जाएगा। यह राजस्व रिसाव या लीकेज से बचना सुनिश्चित करेगा और इसके साथ ही प्रदान की गई सेवाओं के लिए 100% राजस्व मिलना सुनिश्चित करेगा। अत: यह कहा जा सकता है कि बैट्स को लॉन्‍च करना आकाशवाणी के इतिहास में एक बड़ी उपलब्धि है।’

बैट्स को मेसर्स मीडिया न्यूक्लियस द्वारा उपलब्‍ध कराया गया है और इसमें निम्नलिखित महत्वपूर्ण विशेषताएं हैं:

ए. एक केंद्रीय डेटाबेस के माध्यम से विभिन्‍न केंद्रों पर समस्‍त विज्ञापन ऑर्डर की शेड्यूलिंग और बिलिंग का प्रबंधन करना।

बी. रिलीज ऑर्डर प्रविष्टि से लेकर एकल या बहु-इनवॉयस बिलिंग तक अनुबंधों को निर्बाध रूप से संचालित किया जाता है।

सी. परिचालन दक्षता बढ़ाता है और लागत कम करता है।

डी. मीडिया सेल्स ट्रैफिक संबंधित ट्रैफिक टीम को समस्‍त स्पॉट की प्लानिंग, शेड्यूलिंग और बिलिंग के लिए एक लचीला समाधान प्रदान करके संगठन की दक्षता बढ़ाता है।

ई. खाता पदानुक्रम, विभिन्न पैकेज और उत्पादों, मूल्य निर्धारण योजनाओं, कंटेंट अधिकार प्रबंधन, स्वचालित विज्ञापन बुकिंग के साथ-साथ थोक सौदों, शुल्कों और बिलिंग चक्र इनवॉयसिंग पर दी जाने वाली छूट का प्रभावकारी प्रबंधन करके सटीक बिलिंग सुनिश्चित करता है।

एफ. एसबीआई के एकीकृत पेमेंट गेटवे के माध्यम से भुगतान की प्रोसेसिंग और संग्रह होता है।

 

Related posts

प्रधानमंत्री ने पहाड़ी राज्यों में विकास पर नागरिक प्रतिक्रिया साझा की

UK 360 News

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डॉ मनसुख मांडविया ने नई दिल्ली में “विजन 2030: रसायन और पेट्रोरसायन से भारत निर्माण” विषयवस्तु के साथ इंडिया केम- 2022 के 12वें संस्करण का उद्घाटन किया

SONI JOSHI

वाणिज्य मंत्री ने भारत और किर्गिज़ गणराज्य के बीच द्विपक्षीय व्यापार और सांस्कृतिक संबंधों को और मज़बूत बनाने का आह्वान किया

UK 360 News
X
error: Alert: Content selection is disabled!!
Join WhatsApp group