Odisha Train Accident: ओडिशा में रेल हादसे वाली जगह पर पहुंचे रेल मंत्री, CM पटनायक-ममता बनर्जी ने क्या कहा

News Desk
3 Min Read

- Advertisement -
Ad imageAd image

Coromandel Train Accident: ओडिशा के बालासोर में 2 जून की शाम को हुए ट्रेन हादसे ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है. रेलवे अधिकारी से मिली जानकारी हादसे में अब तक 261 लोगों की जान चली गई. वहीं 900 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. हादसे के बाद ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव दुर्घटनास्थल पर पहुंचे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोपहर 2 बजे भुवनेश्वर लैंड करेंगे, जिसके बाद वो भी दुर्घटना स्थल का जायजा लेंगे.

घटनास्थल पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहुंचकर स्थल का जायजा लिया. मीडिया को संबोधित करते उन्होंने कहा, हम अपने लोगों की भलाई के लिए ओडिशा सरकार और दक्षिण पूर्व रेलवे के साथ समन्वय कर रहे हैं. हमने डॉक्टर और और एंबुलेंस भेजी हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि ट्रेन में एंटी कॉलीजन डिवाइस नहीं लगी थी जिसके चलते जान चली गई. हालांकि जिसकी जान चली गई, वो जिंदगी वापस नहीं मिलेगी. अब रेस्क्यू पर फोकस होना चाहिए.

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव भी घटनास्थल पर पहुंचे
बालासोर में घटनास्थल पर पहुंचकर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी हादसे का जायजा लिया. रेल मंत्री ने कहा, एक हाई प्रोफाइल स्तरीय जांच की जाएगी और रेल सुरक्षा आयुक्त भी एक स्वतंत्र जांच करेंगे. हमारा ध्यान बचाव और राहत कार्यों पर है. जिला प्रशासन से मंजूरी मिलने के बाद बहाली शुरू होगी. यह हादसा क्यों हुआ है इसका पता रेलवे सुरक्षा आयुक्त के रिपोर्ट जमा करने के बाद ही चल पाएगा.

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बालासोर के अस्पताल में घायलों से भी मुलाकात की. 

CM नवीन पटनायक ने क्या कहा
ममता बनर्जी से पहले ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक भी दुर्घटनास्थल पर पहुंचे थे. पटनायक ने मौके पर मौजूद अधिकारियों और रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से बात कर स्थिति का जायजा लिया. उन्होंने बालासोर के अस्पताल पहुंचकर हादसे में घायल लोगों से भी मुलाकात की. पटनायक ने कहा, यह बेहद दुखद ट्रेन दुर्घटना है. मुझे स्थानीय टीमों, स्थानीय लोगों और अन्य लोगों को धन्यवाद देना है जिन्होंने लोगों को मलबे से बचाने के लिए रात भर काम किया है. रेलवे सुरक्षा को हमेशा पहली प्राथमिकता दी जानी चाहिए. लोगों को बालासोर और कटक के अस्पतालों में ले जाया गया है ताकि वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं

बता दें, ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार शाम करीब 7 बजे बेंगलुरु से हावड़ा जा रही सुपरफास्ट एक्सप्रेस के कई डिब्बे अचानक पटरी से उतर कर दूसरी पटरी में जा गिरे. ऐसे में दूसरी पटरी पर आ रही शालीमार-चेन्नई कोरोमंडल एक्सप्रेस डिब्बे से टकरा गई. इसके कई डिब्बे वहां खड़ी मालगाड़ी से टकरा गए.

Share This Article
Leave a comment