अल्मोड़ा होटल मैनेजमेंट संस्थान में छात्रों ने जड़ा ताला, धरना दिया

News Desk
2 Min Read

- Advertisement -
Ad imageAd image

जगत सिंह बिष्ट राजकीय होटल मैनेजमेंट संस्थान अल्मोड़ा में शिक्षकों की कमी से पढ़ाई बाधित हो रही है। पठन-पाठन व्यवस्था दुरुस्त न होने से नाराज विद्यार्थियों ने शुक्रवार को संस्थान के मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया और धरने पर बैठ गए। उन्होंने नारेबाजी कर विरोध जताया। कहा कि जल्द शिक्षकों की कमी दूर नहीं हुई तो आंदोलन करेंगे।

इस मौके पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि विद्यार्थी सुनहरे भविष्य की उम्मीद में होटल मैनेजमेंट संस्थान में प्रवेश लेते हैं लेकिन यहां पर्याप्त शिक्षक नहीं होने से विद्यार्थियों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा नहीं मिल पा रही है। इससे उनका भविष्य अंधकारमय हो रहा है। उन्होंने कहा कि संस्थान में 171 प्रशिक्षणार्थियों को पढ़ाने के लिए सिर्फ दो शिक्षक तैनात हैं। इन शिक्षकों की भी कई बार विभागीय कार्यक्रमों या अवकाश पर जाने पर पढ़ाई चौपट हो जाती है।

विद्यार्थियों को होटल मैनेजमेंट की गुणवत्ता परक शिक्षा नहीं मिल पा रही है। कई जरूरतमंद विद्यार्थी आर्थिक तंगी के बावजूद उधार में पैसा लेकर पढ़ाई कर रहे हैं। ऐसे में उनका भविष्य बर्बाद होने के कगार पर है। उन्होंने संस्थान में शिक्षकों की कमी जल्द दूर करने की मांग की। उन्होंने कहा कि यदि शिक्षकों की तैनाती जल्द नहीं हुई तो वह अनिश्चितकालीन प्रदर्शन करेंगेे। संवाद

प्रदर्शन में ये रहे शामिल
तालाबंदी और प्रदर्शन करने वालों में ईशान साह, अमन, सुगंधा आर्या, पूजा बिष्ट, विपुल भाकुनी, शेखर नेगी, दीक्षा, शिवानी कनवाल, मनीष राणा, विशाल गड़िया, तरुण, प्रतीक जैसवाल आदि शामिल रहे।

Share This Article
Leave a comment