January 28, 2023
UK 360 News
राष्ट्रीय

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने राजमाता विजयाराजे सिंधिया ग्वालियर हवाई अड्डे के नए टर्मिनल भवन की आधारशिला रखी

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, नागरिक उड्डयन एवं इस्पात मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया और कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर की उपस्थिति में ग्वालियर हवाई अड्डे के नए टर्मिनल भवन की आधारशिला रखी।

नए टर्मिनल का डिजाइन भविष्य की जरूरतों पर आधारित है। वर्तमान हवाईअड्डे में व्यस्त समय के दौरान 200 यात्रियों को संभालने की क्षमता है और रनवे ए-320 एवं एटीआर-72 प्रकार के विमानों के परिचालन के लिए अनुकूल है। नया टर्मिनल भवन का निर्माण 172 एकड़ भूमि पर 450 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से किया जाएगा जो वर्तमान 29 एकड़ भूमि से 6 गुना अधिक है। यह व्यस्त समय के दौरान 1,400 यात्रियों को संभालने में समर्थ होगा जो मौजूदा क्षमता से 7 गुना अधिक है। एप्रन में 13 विमानों की पार्किंग सुविधा होगी जो मौजूदा क्षमता से 4 गुना अधिक है। इसके अलावा क्षेत्रीय उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए एक कार्गो टर्मिनल भी स्थापित किया जाएगा जिससे इस क्षेत्र के स्थानीय उत्पाद को देश-विदेश के कोने-कोने तक पहुंचाने में मदद मिलेगी।

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने अपने उद्घाटन भाषण में नागरिक उड्डयन मंत्रालय के काम की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि जिस तरह इस हवाई अड्डे की योजना बनाई गई है उससे साफ है कि यह देश के सर्वश्रेष्ठ हवाई अड्डों में से एक होगा।

नागरिक उड्डयन एवं इस्पात मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में एक नए भारत का निर्माण किया जा रहा है जो एक नए मध्य प्रदेश और एक नए ग्वालियर का विकास करेगा। ग्वालियर हवाई अड्डे के इस टर्मिनल से विकास को मजबूती मिलेगी। पिछले एक साल के दौरान मध्य प्रदेश की हवाई गतिविधियों में 48 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। पहले पूरे राज्य में हर हफ्ते विमानों के 554 आगमन एवं प्रस्थान होते थे जबकि आज हर हफ्ते 821 विमानों का परिचालन हो रहा है। मंत्री ने घोषणा की कि ग्वालियर को सप्ताह में छह दिन स्पाइसजेट विमान द्वारा और सप्ताह में एक दिन बोइंग 737 द्वारा जोड़ा जाएगा। इसके अलावा, ग्वालियर को सप्ताह में चार दिन एयरबस 321 द्वारा मुंबई से जोड़ा जाएगा।

नए टर्मिनल भवन के विकास में पर्यावरण की रक्षा के लिए वर्षा जल संचयन और सौर ऊर्जा जैसी तकनीकों का उपयोग किया जाएगा। साथ ही 2.5 मेगावॉट का एक सौर ऊर्जा संयंत्र भी चालू किया जाएगा। टर्मिनल को इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि यहां आने वाले हर यात्री को ग्वालियर की सांस्कृतिक विरासत एवं आधुनिकता का भव्य संगम देखने को मिल सके।

इस अवसर पर मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, राज्‍य सभा सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर, मध्‍य प्रदेश सरकार में मंत्री श्री प्रद्युमन सिंह तोमर, मध्‍य प्रदेश सरकार में मंत्री श्री तुलसी सिलावट और मध्‍य प्रदेश सरकार में राज्‍य मंत्री श्री भरत सिंह कुशवाह उपस्थित थे। इसके अलावा नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव श्री राजीव बंसल और एमओसीए, एएआई एवं मध्‍य प्रदेश सरकार के अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।गृह मंत्री ने इस अवसर पर जय विलास पैलेस में ‘गाथा स्वराज की’ नामक एक स्थायी प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया। यह प्रदर्शनी दीर्घा मराठों के गौरवशाली इतिहास को समर्पित है।

 

Related posts

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने गुजरात के गांधीनगर में बांग्लादेश, अंगोला, दक्षिण अफ्रीका, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य एवं पराग्वे के प्रतिनिधिमंडल के नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें कीं

UK 360 News

प्रधानमंत्री की जापान के प्रधानमंत्री के साथ बैठक

UK 360 News

प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद, गुजरात में मोदी शैक्षणिक संकुल के पहले चरण का उद्घाटन किया

UK 360 News
X
error: Alert: Content selection is disabled!!
Join WhatsApp group