December 1, 2022
UK 360 News
उत्तराखण्ड

दरोगाओं के खिलाफ विजिलेंस करेगी मुकदमा, शासन ने दी अनुमति 2015 में 349 दरोगाओं की सीधी भर्ती हुई थी।

2015 दरोगा भर्ती मामला

दरोगाओं के खिलाफ विजिलेंस करेगी मुकदमा, शासन ने दी अनुमति2015 में 349 दरोगाओं की सीधी भर्ती हुई थी। शुरुआत में ही इसमें धांधली की बात उठी, लेकिन कालांतर में सब दब कर रह गई।दरोगाओं को चौकी-थानों के चार्ज भी मिलने लगे। इस बीच एसटीएफ ने जब स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा की जांच शुरू की तो इस भर्ती में भी धांधली की बात पुष्ट हो गई।दरोगा भर्ती धांधली में विजिलेंस अब दरोगाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करेगी। शासन ने मुकदमा दर्ज करने की अनुमति दे दी है। अब जल्द ही धांधली कर पास होने वाले दरोगाओं की गिरफ्तारी भी हो सकती है।

वर्ष 2015 में हुई इस भर्ती में करीब 10 फीसदी दरोगा ओएमआर शीट में गड़बड़ी कराकर पास हुए थे। प्राथमिक पड़ताल के बाद एसटीएफ भी ऐसे कई दरोगाओं के नामों की सूची विजिलेंस को सौंप चुकी है। मामले में डीजीपी ने विजिलेंस जांच की सिफारिश की।जरूरी कार्रवाई के बाद शासन ने जांच विजिलेंस के हवाले कर दी। इधर, शुरुआती दौर में ही एसटीएफ ने 15 दरोगाओं की सूची विजिलेंस को सौंप दी थी

विजिलेंस ने प्राथमिक पड़ताल की और निर्णायक मोड़ पर पहुंच गई। निदेशक विजिलेंस अमित सिन्हा ने बताया कि उन्होंने शासन से मुदकमा दर्ज करने की अनुमति मांगी थी। इस मामले में एक बैठक हुई, जिसमें विजिलेंस को मुकदमा दर्ज करने की अनुमति मिल गई है।

विजिलेंस को इस मामले में पर्याप्त साक्ष्य मिल चुके हैं। मुकदमा दर्ज करने के बाद गिरफ्तारियां भी शुरू की जाएंगी। फिलहाल, विजिलेंस अगली कार्रवाई के लिए पुलिस मुख्यालय से भी संपर्क बनाए हुए है।

Related posts

आजादी के पचहत्तर साल बाद भी पहाड़ के हालात आज भी बत्तर। स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में ग्रामीण की मौत।

ANAND SINGH AITHANI

ट्रेंकूलाइजर टीम के पहुंचने से पहले ही गायब हो गए दोनों तेंदुए

ANAND SINGH AITHANI

100 से अधिक युवाओं को दी गई NYKS के बारे में जानकारी

ANAND SINGH AITHANI
X
error: Alert: Content selection is disabled!!
Join WhatsApp group