कोसी बैराज में भरी पड़ी है गंदगी- इसी गंदे पानी को पीती है अल्मोड़ा की एक लाख की आबादी

2 Min Read

जिले की एक लाख की आबादी की प्यास बु्झाने वाला कोसी बैराज का पानी दूषित हो गया है। बैराज में गंदगी का  अंबार लगा है। इसकी सफाई के प्रयास नहीं हो रहे हैं। बैराज में सिल्ट के साथ ही प्लास्टिक सहित अन्य गंदगी समाई है।

- Advertisement -
Ad imageAd image

हालत यह है कि इसकी सफाई के लिए बजट ही नहीं है। इसमें हर वर्ष आने वाले अनुमानित 25 लाख रुपये के सापेक्ष सिर्फ छह लाख ही मिल रहे हैं। ऐसे में सफाई न होने से बड़ी आबादी दूषित पानी पीने के लिए मजबूर है। संक्रामक रोग होने का खतरा बढ़ गया है।

- Advertisement -
Ad imageAd image

अल्मोड़ा नगर सहित आसपास के गांवों की एक लाख से अधिक की आबादी की प्यास बुझाने के लिए कोसी बैराज का वर्ष 2015 में निर्माण किया गया था। इसमें बनी लिफ्ट पेयजल योजना से नगर में पानी पहुंचता है। इसके रखरखाव की जिम्मेदारी संभालने वाले सिंचाई विभाग के अनुसार बैराज की सफाई और अन्य कार्यों के लिए प्रतिवर्ष 25 लाख रुपये की जरूरत है लेकिन इसके लिए अब तक बजट की व्यवस्था नहीं हो सकी है और कोई मद स्वीकृत नहीं है।

- Advertisement -

जिला योजना से मिलने वाले करीब छह लाख रुपये से बैराज की संपूर्ण सफाई असंभव है। इस लापरवाही के चलते बैराज में काफी मात्रा में सिल्ट और प्लास्टिक सहित अन्य गंदगी जमा होने से इसका पानी दूषित हो गया है। ऐसे में लोग दूषित पानी पीने के लिए मजबूर हैं।

- Advertisement -
Share This Article
Leave a comment