मां ने कबूला जुर्म: आठ साल की बेटी को दी ऐसी यातनाएं, सुनकर खड़े हो जाएंगे रोंगटे; कत्ल की वजह भी बताई

4 Min Read

काशीपुर में आठ वर्षीय बेटी की बर्बरता पूर्वक पिटाई करने और गला घोंटकर हत्या करके शव को घर से सामने एक खाली मकान के कमरे में गड्ढे खोदकर दबाने की आरोपी सौतेली मां लक्ष्मी देवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से आरोपी को जेल भेज दिया है।

- Advertisement -
Ad imageAd image

खड़कपुर देवीपुरा निवासी मोनू कुमार पुत्र स्व. भूकन सिंह की आठ वर्षीय बेटी सोनी हत्याकांड का आईटीआई थाना परिसर में सीओ अनुषा बडोला ने खुलासा किया। बताया मोनू कुमार ने 18 अप्रैल 2024 को तहरीर दी थी जिसमें कहा कि उसकी बेटी सोनी 17 अप्रैल 2024 को दोपहर डेढ़ बजे दुकान में सामान लेने गई   थी जो लौटी नहीं। तब पुलिस ने बच्ची की गुमशुदगी दर्ज कर जांच एएसआई पुष्कर भट्ट को सौंपी।टीम ने जांच के दौरान आसपास के लोगों से पूछताछ की और सीसीटीवी खंगाले।

- Advertisement -
Ad imageAd image

तब 17 अप्रैल 2024 को सोनी की सौतेली मां लक्ष्मी देवी उसे अपने घर के सामने निर्माणाधीन मकान में ले जाते हुई दिखाई दी। पुलिस ने 18 अप्रैल 2024 की शाम उक्त मकान के एक कमरे में बने गड्ढे से मिट्टी हटाई तो उसमें हाथ-पैर बांधकर बोरे में बंद करके दबा शव मिला।

- Advertisement -

पुलिस ने आरोपी सौतेली मां लक्ष्मी देवी पत्नी मोनू कुमार को गिरफ्तार कर बच्ची की गुमशुदगी के दर्ज मुकदमे को हत्या की धारा 302/201 आईपीसी में तरमीम कर लिया। साथ ही आरोपी महिला को न्यायालय के समक्ष पेश कर उसे जेल भेज दिया।सीओ अनुषा बडोला के अनुसार पूछताछ में आरोपी लक्ष्मी देवी ने बताया उसका पति मोनू कुमार और सास संतोष देवी सोनी को ज्यादा लाड़-प्यार करते थे ।

- Advertisement -

जिसे लेकर अक्सर घर में झगड़ा होता रहता था। इसी बात को लेकर वह सोनी से द्वेष भावना रखती थी। बताया उसने मौका पाकर उसकी हत्या कर दी और शव को घर के सामने खाली मकान में छिपा दिया। साथ ही पति को उसके गुम होने की फोन करके जानकारी दी।

आईटीआई थाना प्रभारी प्रवीण कोश्यारी ने बताया आरोपी लक्ष्मी देवी ने अपने पति से सोनी के गुम होने की बात कही थी। पिता मोनू कुमार की तहरीर पर पुलिस ने गुमशुदगी भी दर्ज कर ली थी। यदि घर के आसपास सीसीटीवी नहीं लगे होते तो कुछ समय तक यह घटना राज ही बनी रहती। जांच में पुलिस टीम ने जब घर के पास लगे सीसीटीवी खंगाले, तब लक्ष्मी देवी 17 अप्रैल की दोपहर को सोनी को घर के सामने वाले मकान में ले जाती नजर आई जिसके बाद शक गहरा गया और पुलिस घटनाक्रम के तह तक पहुंच गई और आरोपी महिला को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

आईटीआई थाना के हवालात में बंद मृतक सोनी की सौतेली मां अब पछतावे के आंसू बहा रही है। आरोपी लक्ष्मी देवी ने बताया वह सोनी को पसंद नहीं करती थी, क्योंकि उसका पति मोनू और सास दोनों उसको चाहते थे। जिसके चलते वह उससे बैर रखती थी और मौका पाकर गुस्से में आकर यह कदम उठाया। अब उसे अपनी करनी पर पछतावा हो रहा है।

Share This Article
Leave a comment